0



समय (Time) एक खुशबूदार फूल की तरह होता है। जब जीवन (Life) के प्रति हमारा सकारात्मक नजरिया (Positive attitude) होता है तथा हम जो भी कार्य (Work) करते हैं और यदि हमारा उन कार्यों में मन लगता है तो समय का यह फूल हमें सफलता (Success) की खुशबू से महका देता है।जबकि यदि जीवन के प्रति हमारा नकारात्मक नजरिया (Negative attitude) होता है और हम बिना मन लगाए अपने कार्यों को पूरा करते हैं तो यही समय हमें कांटों की तरह चुभता है और असफलता (Failure) हाथ लगती है।

 

आपने देखा होगा जब कोई बच्चा Mobile में Game खेल रहा होता है तो कब दो घंटे बीत जाते हैं उसे पता ही नहीं चलता और इतने समय में वह उस Game की बहुत सी Stages को पार करने में सफलता प्राप्त करता है।
जबकि जब वह पढ़ने बैठता है तो पढ़ने में उसका मन (Mind) कम लगता है और 15 मिनट का Time भी उसे बहुत अधिक लगता है।
ऐसा क्यों होता है???

इसी तरह जब हम कोई मूवी देखते हैं तो दो से तीन घटे कब बीत जाते हैं, यह पता ही नहीं चलता।
लेकिन यदि हम दो से तीन घंटे लगातार अपने Office का Work करते हैं तो हम थकने लगते हैं और यह कार्य हमें बहुत ज्यादा महसूस होता है।
ऐसा क्यों होता है???

समय तो वही था तो ऐसा क्या हुआ कि एक कार्य करते हुए तो कब समय बीत गया, पता ही नहीं चला जबकि दूसरा कार्य करते हुए हमें वही समय बहुत ज्यादा और थका देने वाला महसूस हुआ??? दोस्तों इसका एक ही उत्तर है और वह है– कार्य के प्रति हमारा नजरिया

1. कार्य के प्रति हमारी रुचि




जब हम अपना मनपसंद कार्य (Favorite Work) कर रहे होते हैं तो उस कार्य के प्रति हमारा नजरिया सकारात्मक (Positive approach) होता है अर्थात उस कार्य में हमारा Interest होता है तब उस कार्य को करने में समय कब बीत जाता है, पता ही नहीं चलता।

लेकिन जब हम अपना मनपसंद कार्य नहीं कर रहे होते हैं तो उस कार्य के प्रति हमारा नजरिया नकारात्मक (Negative approach) होता है अर्थात उस कार्य में हमारा Interest नहीं होता है। तब कम समय भी अधिक और थका देने वाला महसूस होता है और यह Work हमें बहुत Hard लगता है।


जब आप अपना मनपसंद कार्य कर रहे होते हैं तो उस समय आप एक लय में होते हैं और अपने कार्य में पूर्ण रूप से मग्न होते हैं।


दूसरा व्यक्ति आपको कार्य करते देखकर यह सोच सकता है कि आप कितनी मेहनत (Hard Work) कर रहे हैं जबकि आप उस Time कार्य नहीं कर रहे होते हैं बल्कि एक Game को खेल रहे होते हैं। सच है, उस समय वह कार्य आपको एक Work नहीं लगता बल्कि एक Game लगता है। अतः Hard Work को Favorite Work में बदलने के लिए अपने Work में Interest पैदा कर लें। 


2. Interested Work करने के फायदे

अपने मनपसंद कार्य करते समय आप अच्छा महसूस करते हैं जिससे यह फायदे होते हैं—

1- आप उस Work को बहुत जल्दी पूरा कर लेते हैं।
2- आप उस Work को आसानी से पूरा कर लेते हैं।
3- आप पसंद के कार्यों (Favorite Works) को जितनी भी देर तक चाहें, कर सकते हैं।
4- आप ऐसे कार्य को लगातार (Continuously) भी कर सकते हैं।
5- पसंद के कार्य जल्दी पूरे होने से आपके अंदर आत्मविश्वास (Self-confidence) बढ़ता जाता है।
6- कार्य की अधिकता भी आपको थकान महसूस (Feel tired) नहीं होने देती।
7- मनपसंद कार्य करने से आप जीवन में सफलता की सीढ़ियों (Steps Of Success In Life) पर चढ़ते जाते हैं। 
 

 
3.  सफलता प्राप्त करने के तरीके

 (A) सफलता पाने का पहला तरीका :

यदि आपको सफलता प्राप्त करनी है तो ऐसे कार्य कीजिए जो आपके मनपसंद हों।

(B) सफलता प्राप्त करने का दूसरा तरीका

यदि आपको सफलता प्राप्त करनी है तो जो भी कार्य आप करते हैं उसे मनपसंद बना लीजिये। दोनों ही तरीको से सफलता मिल जाएगी।

अब यदि आप Present Time में कोई ऐसा Work कर रहे हैं जो आपका Favorite है, तब तो अच्छी बात है और Success आपके कदम जरूर चूमेगी। लेकिन यदि आप Present Time में ऐसा कार्य कर रहे हैं जिसे आप पसंद नहीं करते लेकिन मजबूरी में कर रहे हैं तो अपनी Life को बोझिल मत बनाइये, बस आप केवल उस कार्य को पसंद करने के तरीके खोज लीजिये।

 4. किसी भी कार्य को Favorite Work में बदलने के तरीके

यदि आप ऐसा काम करते हैं जिसे आप पसंद नहीं करते तो आप इन तरीकों को आजमाकर देखें। मुझे विश्वास है कि इन तरीकों से आप अपने नापसंद कार्य को पसंद का बना लेंगे—

1- आप अपने कार्य को एक खेल बना लीजिये। खेल खेलिए और Time को अपना Score बना लीजिये। आज यदि वह कार्य आपने 5 घंटे में किया तो कल उससे कम Time में करने की कोशिश कीजिये।


2- यदि आप कोई चीज बेच (Sell) रहे हैं तो यह खेल खेलिए कि यदि आज आपने 10 चीजें बेचीं तो कल के लिए 12 का लक्ष्य (Goal) बना लीजिये और रोज अपने इस Score को बढ़ाते रहिये। कुल मिलकर अपने कार्य को खेल बनाकर हर रोज नया Record बनाने की कोशिश कीजिये। कोशिश कीजिये कि आपका आज का रिकॉर्ड कल के रिकॉर्ड से अच्छा और अधिक हो।


3- आप अपने कार्य को टुकड़ों में भी बांट सकते हैं। कार्य का एक टुकड़ा पूरा होने के बाद खुशी मनाइये। फिर दूसरा टुकड़ा पूरा कीजिये और फिर ख़ुशी मनाइये। ऐसे आपका उस कार्य में मन भी लगेगा और आप खुश भी रहेंगे।
 

4- इसके अलावा आप खुद को पुरस्कार देने का तरीका (The way to reward yourself) भी अपना सकते हैं। इसमें आप यह सोच सकते हैं कि यह कार्य पूरा कर लूँ तो खुद को एक चॉकलेट दूंगा या यह कार्य यदि मैंने 2 घंटे में पूरा कर लिया तो मैं खुद को एक अच्छे रेस्टोरेंट में डिनर खिलाऊंगा। इससे आपका अपने कार्य के प्रति Interest बढ़ेगा और आप उस कार्य को अपने पसंद का बना सकेंगे।
 

5- आप अपने कार्य के Result के बारे में Positive Thinking रखकर भी अपने कार्य में मन लगा सकते हैं। आप यह सोचें कि यदि आपका वह कार्य पूरा हो जाए जिसमे आप मन नहीं लगा पा रहे हैं तो आपको कैसा महसूस होगा?
जैसे कोई Student सोच ले कि यदि वह अपने Exam में Top कर जाये तो उसे कैसा Feel होगा?
लोग उसको जब बधाइयां देंगे तो उसे कितनी ख़ुशी होगी?
यह बातें सोच कर ही उसका मन ख़ुशी से झूमने लगेगा और वह Study में मन लगाने की पूरी कोशिश करेगा और Possibility इस बात की है कि वह सफल भी जरूर होगा।
यह तरीके मैंने आपको एक उदहारण के रूप में बताये हैं। आप अपने हिसाब से कोई और भी तरीका खोज सकते हैं।
 

तो दोस्तों या तो ऐसे कार्य को अपने Career बना लीजिये जिसमे आपका Interest है, जो आपका Favorite है या फिर किसी भी तरीके से उस कार्य में interest पैदा कर लीजिये जिसे आप पसंद नहीं करते हैं।
ऐसा करने से आप सफलता के रास्ते (Way to Success) की ओर चल देंगे और Life में आपको Success जरूर मिलेगी।तो देर किस बात की है, आज से ही…….. और मैं तो कहूँगा अभी से ही आप अपने कार्य में Interest लेना शुरू कर दीजिये। वह कार्य आपका Favorite बन जायेगा।

आपको पोस्ट पसंद आई हो तो Youtube पर क्लिक करके Subscribe करना ना भूलें

आपको पोस्ट कैसी लगी कोमेन्ट और शॅर करें

Post a comment

 
Top